मंगलवार को इस तरह करें हनुमान जी की आराधना पूर्ण होगी सारी मनोकमाना, कुछ बातों का रखें खासा ध्यान

ज्येष्ठ महीने का यह पहला मंगलवार है। इस दिन बंजरंग बली हनुमान जी की आराधना करना बेहद ही फलदायी मानी जाती है। कहते हैं कि, आज के दिन जो भी भक्त सच्चे मन से पूजा करता है उनकी मनोकमाना बंजरंगी जरूर पूर्ण करते हैं। ऐसा करने से उनके जीवन में खुशियां भर जाती है।कलयुग में श्री हनुमान जी की पूजा सभी संकटों से बचाने वाली है। ऐसे में आइए जानते हैं कि पवनपुत्र हनुमान जी की किस मूर्ति से किस मनोकामना की पूर्ति होती है।

उत्तर दिशा में रखी हनुमान जी की मूर्ति या फोटो की पूजा करने से सभी देवी-देवताओं का आशीर्वाद प्राप्त होता है। घर में सुख—समृद्धि का वास बना रहता है।

दक्षिण दिशा में लगाई गई तस्वीर को देख घर के अंदर किसी भी तरह की बुरी ताकत नहीं आती है। बजरंग बली का चित्र देखते ही लौट जाती है। मान्यता है कि दक्षिण दिशा में श्री हनुमान जी ने अपनी शक्तियों का सबसे अधिक प्रभाव दिखाया है। इसलिए इस दिशा में रखी मूर्ति की पूजा करने से भगवान की कृपा जल्द ही प्राप्त होती है।

मान्यता है कि जिस घर में श्री बजरंग बली का चित्र होता है, वहां किसी भी प्रकार का दोष, भय, बाधा और भूतादि नहीं रहते। लेकिन हनुमान जी का चित्र लगाते समय कुछ सावधानियां भी आवश्यक हैं। शास्त्रों के अनुसार श्री हनुमान जी बाल ब्रह्मचारी हैं। ऐसे में उनका चित्र भूलकर भी अपने बेडरूम में लगाएं। यहां यह जान लेना जरूरी है कि हनुमान जी का दक्षिण दिशा में बैठी हुई मुद्रा में फोटो लगाना अति शुभ होता है। साथ ही घर में कभी भी लंका दहन वाली तस्वीर न लगाएं।

घर में उड़ते हुए हनुमान जी की फोटो लगाकर पूजा करने पर बजरंग बली से जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में सफलता एवं उन्नति का आशीर्वाद प्राप्त होता है। हनुमत साधक में निरंतर आगे बढ़ने के प्रति उत्साह और साहस का संचार होगा।

जिस घर में श्री हनुमान जी द्वारा प्रभु श्री राम का सुमिरन-भजन करते हुए फोटो की पूजा होती है, उस घर के लोगों में हमेशा भक्ति और विश्वास का संचार होता रहता है। यही ईश भक्ति साधक का कल्याण करती है।

जिस घर में पर्वत उठाए हुए हनुमान जी की पूजा होती है, उस घर के हनुमत भक्त पर बजरंग बली की कृपा से साहस, बल, विश्वास और जिम्मेदारी का विकास होता है। ऐसा हनुमत भक्त बगैर किसी डर के सभी संकटों का सामना बहादुरी से करता है। नतीजतन, वह सभी क्षेत्रों में सफलता प्राप्त करता है।

जिस घर में पंचमुखी हनुमानजी की मूर्ति या फोटो की पूजा होती है, उस घर में सुख-समृद्धि का वास होता है और उस घर के लोगों के उन्नति मार्ग में आनी वाली सभी बाधाएं स्वत: दूर हो जाती हैं। पंचमुखी हनुमान जी की पूजा करने से शत्रु बाधा, बीमारी व मन मुटाव दूर होता है।

Loading...

You may also like...